India Today Media Institute

Corporate Connect with Suvam Anurag

We are humbled to have attended the corporate session organised by our college authorities with Mr. Suvam Anurag, the President of First Track India Entertainment and Director of ASSOED India.

Advertisements

Reena Roy back in Bollywood 

Reena Roy a veteran bollywood actress who has performed leading roles in many films from 1972 to 1985 and was a leading actress of that era. She was the highest-paid actress of her time. She was awarded the Filmfare Lifetime Achievement Award in 1998.

भविष्य आर्टिफ़िशल इंटेलिजेन्स का

इस समय का नवीनतम अविष्कार जो आने वाले भविष्य में विश्व और भारत में रोजगार को प्रभावित करने वाला है , वह है कृत्रिम बुद्धिमत्ता उर्फ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, यह मशीनों की बुद्धि को दर्शाता है। जिस प्रकार मनुष्य वातावरण और हालात देख निर्णय ले पाता है अगर वैसे ही कोई मशीन किसी परिस्थिति अनुरूप निर्णय ले , जो कि उस घड़ी में सबसे उपयुक्त हो तो उसे उस यन्त्र की कृत्रिम बुद्धि कहते है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस वह शाखा है जिससे रोबोट को इफेक्टिव और इंटेलीजेंट बनाया जाता है, और इस प्रकार के रोबोट विदेशो में एवं देश की कई बड़ी कम्पनियो में अपनी जगह बना चुके है, जहां वो पूर्व में मजदूरों और कारीगरो द्वारा किये गए काम को खुद कर रहे है।

What are the Halal investment options in India?

Halal means which is permitted or lawful under the  Islamic Law known as Shariah. Halal Investment is a financial function in which interest is strictly banned and totally unacceptable in Shariah or under the Islamic law.

Significance of Christmas

 Written By – Manish Khatri   The festival of Christmas represents joy and festivity. Celebrated on the 25th of December … More

दौर ताजपोशी का..

वर्तमान समय में भारत में ताजपोशी का दौर चल रहा है। समय ताज और उसके मालिकों को या तो खुद चुन रहा है या फिर मजबूरी उन्हें वहां तक ले ही आती है।

फिरंगी हुआ अपने ही देश में फेल

फ़िरंगी एक साधारण फ़िल्म है जो कई जगहों पर बोर करती है। कुछ दृश्य जरूर मनोरंजक है । पूरी तरह से दर्शकों ने अभी कपिल शर्मा को एक हास्य कलाकार ( कॉमेडियन) के तौर पर ही पसंद किया है, गंभीर रोल में कपिल को अभी अपनी छाप बनाने में वक़्त लग सकता है।

अयोध्या विवाद, अध्याय-२ : राजनेताओं का बाबरीनामा

भारतीय राजनीति में पिछले तीन दशक में अगर किसी मुद्दे ने सबसे ज्यादा हलचल मचाई है , तो उसका नाम बिना किसी दो राय के राम मंदिर-बाबरी मस्जिद होना चाहिए। ये एक ऐसा मुद्दा है जिसकी चर्चा के साथ ही राजनीति की बिसातें बिछने लगती हैं और वोटबैंक की मूसलाधार बारिश होती है।