2018 : भारत के सामाजिक – आर्थिक ढांचे के लिए चुनौती और अवसरों वाला साल

वर्ष 2017 गुजर चुका है । नोटबंदी और जीएसटी जैसे बड़े आर्थिक परिवर्तनों के चलते बाजार में छाई सुस्ती के कारण यह साल निराशा भरा था . बढ़ती बेरोजगारी अर्थव्यवस्था के लिए सबसे बड़ी चुनौती बन कर उभरी

Advertisements

अयोध्या विवाद, अध्याय-२ : राजनेताओं का बाबरीनामा

भारतीय राजनीति में पिछले तीन दशक में अगर किसी मुद्दे ने सबसे ज्यादा हलचल मचाई है , तो उसका नाम बिना किसी दो राय के राम मंदिर-बाबरी मस्जिद होना चाहिए। ये एक ऐसा मुद्दा है जिसकी चर्चा के साथ ही राजनीति की बिसातें बिछने लगती हैं और वोटबैंक की मूसलाधार बारिश होती है।

REPRESENTATIONS OF CULTURE THROUGH BRANDING

Interactive session with ad guru Santosh Desai

100% IS NOT ENOUGH

                                     Outstanding placements … More